Trending News

Mata Vaishno Devi Bhawan In Katra Everyone Was Convinced Of Senior Interior Designer Shweta Behavior – तस्वीरें: सीनियर इंटीरियर डिजाइनर श्वेता के व्यवहार के सब थे कायल, सातवीं बार में फोन उठा तो मिली मौत की खबर

designer Shweta
– फोटो : अमर उजाला

गाजियाबाद के वसुंधरा के सेक्टर-4 की वार्तालोक सोसायटी की सीनियर इंटीरियर डिजाइनर श्वेता सिंह की मां वैष्णो देवी धाम में मची भगदड़ में दर्दनाक मौत हो गई। हादसे में उसकी बहन सरिता सिंह भी घायल हो गई। श्वेता बहन और सोसायटी के छह लोगों के साथ बस से 26 दिसंबर को कटरा गई थीं। वह नए साल के पहले दिन वैष्णो देवी के दर्शन करना चाहती थीं। परिवार के परिचित दिवान सिंह ने बताया कि भगदड़ की जानकारी पर उन्होंने श्वेता और सरिता को कॉल की। छह बार फोन नहीं उठा। 15 मिनट बाद सरिता के भाई राकेश ने सातवीं बार कॉल की तो जम्मू एंड कश्मीर के एक पुलिसकर्मी ने फोन उठाया और श्वेता की मौत की खबर दी। इसके बाद राकेश फ्लाइट से जम्मू रवाना हो गए। वसुंधरा निवासी श्वेता सिंह की शादी औरेया निवासी विक्रांत सिंह से 29 नवंबर 2017 में हुई थी। विक्रांत मर्चेंट नेवी में हैं और इन दिनों इंडोनेशिया में तैनात हैं। 

फाइल फोटो
– फोटो : अमर उजाला

परिवार में भाई राकेश कुमार, भाभी, 12 वर्षीय भतीजा और 21 वर्षीय भतीजी हैं। बहन सरिता सिंह क्रॉसिंग रिपब्लिक की एक सोसायटी में परिवार के साथ रहती हैं। उनके परिवार के परिचित दिवान सिंह ने बताया कि श्वेता सिंह दिल्ली के कनॉट प्लेट में एक एसोसिएट ऑफिस में सीनियर इंटीरियर डिजाइनर के तौर पर 2007 से कार्यरत हैं। 

 

designer Shweta
– फोटो : अमर उजाला

26 दिसंबर को श्वेता बहन सरिता और सोसायटी के छह लोगों के साथ वैष्णो देवी दर्शन करने के लिए निकलीं। ट्रेन से यात्रा ना होने के कारण सभी बस से गए थे। सभी लोगों ने पैदल ही चढ़ाई की और रात में नहाने के बाद 31 दिसंबर रात को दर्शन करने के लिए कतार में लग गए। सरिता और श्वेता दोनों भवन से अलग-अलग हो गईं। इस बीच अचानक वहां भगदड़ मच गई, जिसमें दोनों को संभलने में देर हो गई। भीड़ की धक्कामुक्की में श्वेता नीचे गिर गईं। 

 

designer Shweta
– फोटो : अमर उजाला

कई लोग उन्हें रौंदते हुए निकल गए। जबकि सरिता सीढ़ियों के पास गिरी हुई थीं। उनके ऊपर भी कई लोग गिरे गए थे। वह मदद के लिए चिल्ला रही थीं, लेकिन किनारे होने के कारण बच गईं। केंद्रीय सुरक्षा बल और वैष्णो देवी श्राइन बोर्ड के पदाधिकारियों ने भीड़ को किसी तरह काबू किया। 

 

designer Shweta
– फोटो : अमर उजाला

घायलों को तत्काल कटरा के स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया। जहां श्वेता सिंह को मृत घोषित कर दिया गया। जबकि सरिता सिंह के पैर और हाथ में गंभीर चोट आई है। 12 घंटे बाद चिकित्सकों ने सरिता को छुट्टी दे दी। 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button