Trending News

Goa Cm Pramod Sawant Says Voters Would Not Allow Outsider Parties Like Tmc Aap To Use It For Political Experiments Ahead Of Assembly Election In February 2022 – सीएम सावंत बोले: बाहरी पार्टियों को गोवा का इस्तेमाल ‘राजनीतिक प्रयोगों की लैब’ की तरह करने की अनुमति नहीं देगी जनता

सार

अगले साल होने वाले विधानसभा चुनावों के लिए गोवा के मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत ने शुक्रवार को अपने चुनाव प्रचार अभियान की औपचारिक शुरुआत अपने पैतृक गांव में एक जनसभा को संबोधित कर किया। यहां उन्होंने भरोसा जताया कि राज्य की जनता भाजपा को एक बार फिर चुनेगी और बाहरी पार्टियों को बाहर का रास्ता दिखाएगा।

गोवा के मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत
– फोटो : twitter/DrPramodPSawant

ख़बर सुनें

गोवा समेत पांच राज्यों में अगले साल की शुरुआत में विधानसभा चुनाव होने हैं। चुनाव का समय पास आने के साथ-साथ राजनीतिक बयानबाजी और आरोप-प्रत्यारोप का दौर लगातार जारी है। गोवा में आगामी चुनाव के लिए तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) और आम आदमी पार्टी (आप) मजबूत दावेदारी पेश करती नजर आ रही हैं तो भाजपा एक बार फिर से तटीय राज्य में सरकर बनाने के प्रति विश्वस्त है।
राज्य के मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत ने शुक्रवार को टीएमसी और आप को निशाने पर लिया। उन्होंने कहा कि राज्य के मतदाता बाहरी दलों को इस बात की अनुमति नहीं देंगे कि वह यहां आएं और आगामी विधानसभा चुनाव में गोवा का इस्तेमाल अपने राजनीतिक प्रयोगों की लैब को तौर पर करें। सावंत संखालिम विधानसभा में आने वाले अपने पैतृक गांव कोथांबी में एक जनसभा को संबोधित कर रहे थे।

बांदोडकर, परिकर की विरासत आगे ले जा रहे हैं
यहां से उन्होंने अगले साल फरवरी में निर्धारित विधानसभा चुनावों के लिए अपने चुनाव प्रचार अभियान की औपचारिक रूप से शुरुआत की। उन्होंने कहा कि हम पूर्व दिवंगत मुख्यमंत्रियों दयानंद बांदोडकर, मनोहर परिकर और अन्य नेताओं की विरासत को आगे ले जा रहे हैं। उन्होंने भाजपा के पूर्व सहयोगी दल महाराष्ट्रवादी गोमांतक पार्टी (एमजीपी) पर भी हमला बोला और गंभीर आरोप लगाए।

‘एमजीपी ने अपने मूल्यों के साथ समझौता किया’
एमजीपी पर सावंत ने आरोप लगाया कि इसने राज्य के बाहर से आने वाली पार्टी से हाथ मिलाकर अपने मूल्यों के साथ समझौता किया है। एमजीपी ने आगामी चुनावों के लिए पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की अगुवाई वाली टीएमसी के साथ गठबंधन किया है। टीएमसी के अलावा दिल्ली में सत्ताधारी और मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की आम आदमी पार्टी भी चुनावी समीकरण में शामिल है।

‘हमें अपरिपक्व कहा गया था फिर भी हम जीते थे’
सावंत ने कहा, ‘हमारी टीम में हर सदस्य की उम्र 50 वर्ष से कम है। 2012 के विधानसभा चुनाव के दौरान लोग मुझे और युवा भाजपा समर्थकों को अपरिपक्व कहा गया था। कुछ वरिष्ठ लोग पूछले हैं कि मैं इन अपरिपक्व साथियों के साथ चुनाव कैसे जीत पाया। हमारी टीम में हर व्यक्ति की आयु 50 वर्ष से कम है। लेकिन हम चुनाव जीते।’ प्रमोद सावंत संखालिम सीट से दो बार जीत दर्ज कर चुके हैं।

विस्तार

गोवा समेत पांच राज्यों में अगले साल की शुरुआत में विधानसभा चुनाव होने हैं। चुनाव का समय पास आने के साथ-साथ राजनीतिक बयानबाजी और आरोप-प्रत्यारोप का दौर लगातार जारी है। गोवा में आगामी चुनाव के लिए तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) और आम आदमी पार्टी (आप) मजबूत दावेदारी पेश करती नजर आ रही हैं तो भाजपा एक बार फिर से तटीय राज्य में सरकर बनाने के प्रति विश्वस्त है।

राज्य के मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत ने शुक्रवार को टीएमसी और आप को निशाने पर लिया। उन्होंने कहा कि राज्य के मतदाता बाहरी दलों को इस बात की अनुमति नहीं देंगे कि वह यहां आएं और आगामी विधानसभा चुनाव में गोवा का इस्तेमाल अपने राजनीतिक प्रयोगों की लैब को तौर पर करें। सावंत संखालिम विधानसभा में आने वाले अपने पैतृक गांव कोथांबी में एक जनसभा को संबोधित कर रहे थे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button